Friday, 28 October 2016

सभी को दीपावली पर्व पर बहुत बहुत शुभकामनाएँ - बिजय कुमार जैन

ये दिवाली आपके जीवन, में खुशियों की बरसात
लाए, धन और शौहरत की बौछार करे,
दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं!

बिजय कुमार जैन (bijay jain ) : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ ( Main Bharat Hun )


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें

Wednesday, 26 October 2016

राजस्थान की गोशाला में गायों के लिए एयर कूलिंग सिस्टम

जयपुर। राजस्थान के झुंझुनूं में 117 साल पुरानी एक गोशाला अपने आप में अनूठी है। देश की यह पहली ऐसी गोशाला है जहां गायों के नहाने के लिए शॉवर स्ट्रीट (फव्वारा सिस्टम) लगाया गया है। इसके एक छोर में गाय घुसती हैं और नहाती हुई दूसरी तरफ निकल जाती हैं। यहां दिनभर भजनों की धुन बजती रहती हैं। गायों के रहने के स्थान पक्के हैं। दिन में दो बार प्रेशरयुक्त पानी से इनकी सफाई होती है।

गायों को गर्मी से बचाने के लिए गोशाला में सेंट्रलाइज कूलिंग सिस्टम लगा हुआ है। 80 सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं। देश की किसी भी कोने में बैठकर वेबसाइट के जरिये गोशाला की गतिविधियां ऑनलाइन देखी जा सकती हैं। यहां पूजा अर्चना के लिए नंदी पूजा गृह एवं गोशाला परिक्रमा स्थल भी बने हुए हैं।



गोशाला में वर्तमान में करीब 1000 गाय हैं। इनमें से 160 गाय दूध देती हैं। इनसे गोशाला को वार्षिक सवा करोड़ रुपए की आय होती है। झुंझुनूं के व्यापारी अपनी कमाई का 25 फीसदी गोशाला को देते हैं। इनसे सालाना 40 लाख रुपए मिल जाते हैं।

गोशाला प्रबंधन कमेटी के सचिव सुभाष क्यामसरिया के मुताबिक गोशाला में गायों के अंतिम संस्कार के लिए विद्युत चलित मशीन लगाने की योजना है। बारिश का पानी एकत्रित करने के लिए पांच लाख लीटर क्षमता का वॉटर टैंक बनाया जाएगा। सौर ऊर्जा प्लांट लगाने की भी योजना है। गोशाला को पर्यटन विभाग से जोड़ने के लिए भी प्रयास किए जा रहे है।


हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करे
facebook: 
Twitter:

Tuesday, 25 October 2016

राजस्थान में रबी सीजन के लिए किसानों को दिन में 6.30, रात में 7 घंटे मिलेगी थ्री-फेस बिजली

जयपुर
राजस्थान में रबी सीजन के लिए किसानों को अधिकतम सात घंटे बिजली मिलेगी। राजस्थान ऊर्जा विकास निगम ने चार ब्लॉक घोषित किए हैं, जिसमें किसानों को दिन में साढ़े छह व रात के ब्लॉक में सात घंटे तक थ्री-फेस बिजली आपूर्ति शुरू कर दी गई है।


फील्ड अभियंताओं को लोड मैनेजमेंट के लिए निर्धारित ब्लॉक की पालना करने और ब्लॉक ऑवर्स में किसी भी तरह की मनमर्जी नहीं करने के लिए चेताया है। प्रदेश में अक्टूबर से फरवरी तक के सीजन में बिजली की सबसे ज्यादा मांग रहती है, जिसमें बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ लोड मैनेजमेंट भी बड़ा काम है।


इसी को ध्यान में रखते हुए निगम ने बिजली की मांग-आपूर्ति की प्लानिंग तैयार की है। निगम की ओर से तय ब्लॉक रात 10 बजे से शुरू होंगे, जो अगले दिन शाम 6 बजे तक चलेंगे। पीक ऑवर्स (शाम 6 बजे से रात 10 बजे तक) तक के समय को ब्लॉक फ्री रखा गया है। निगम अधिकारियों के मुताबिक दिन व रात के ब्लॉक हर सप्ताह बदले जाएंगे ताकि किसानों को दिक्कत न हो।
ये रहेंगे चार ब्लॉक 
रात में 10 बजे से सुबह 5 बजे तक 
रात में 11 बजे से 6 बजे तक 
सुबह 5 बजे से 11.30 बजे तक 
सुबह 11.30 से शाम 6 बजे तक

किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक